सब बिमारी पर दवा है, अनिल गोटे की बिमारी लगी तो उस पर दवा नही !

0

गौडा – हॅलो
आ. गोटे – हॅलो
गौडा – अनिलजी
आ.गोटे- हा बोल रंहा हु …
गौडा – सर जी कैलास बोल रंहा हु ! बोरवली से आपने फोन किया था. सुबह यहा पे फोन करने के लिए बोला था.
आ.गोटे- हा…हा बोरिवली से कैलास ओ.. कैलास गौडा.
गौडा- हा…गौडा, गौडा, हाँ कैलास गौडा.
आ. गोटे- मै रात आय था. बोरिवली पोलीस स्टेशन मे.
गौडा – हा पता है मेने देखा था गाडी आया था आपका..
आ.गोटे- हं क्या.. और ओ सिनियर से मिला, मैने उसको व्हिडिओ बताया क्या.. ये जो बात है, मैने पुरे मे एमएलए हँ.ु मै कोई आलतू फालतू आदमी नही हुँ..
गौडा – हां पता है. मैने आपकी गाडी देखा सर…
आ.गोटे- सुनो मेरी बात सुनो कैलासजी, अभी आप मैने रात के रात मे आरटीओ को जगाकर क्या…हं..
ओ सब गाडी के कागजात निकाले, ओ सब आपको व्हॉटसअप करता हुं..अभी मेसेज करता हुं..आपको सब गाडी के कागज निकाले कल रात को मैने. और जो सिनियर ऑफिसर है आरटीओ के ओ सिनियर ऑफिसर से मेने कागजात निकलवाये..
गौडा- ओके
आ.गोटे- क्या.. अभी भी ओ सतीश सखाराम मांगले के नाम पे है..
गौडा- हां.. हां. हां
आ.गोटे- आज के तारीख मे भी है..
गौडा- हां.. हां… बराबर उस के नाम पे ही है. सतीश सखाराम मांगले. बराबर उसके नाम पे ही है.
आ. गोटे- क्या समजे
गौडा – हा आर सी बुक पे उनका ही नाम है..
आ.गोटे- अरे भाई आर.सी. बुक तो मैने ही उसको लॉक करके रखा है. ओ होई नही सकता किसी के नाम पे क्या…
गौडा- हं.. अभी क्या चाहते है आप. अभी क्या करना चाहिये मुझे?
आ.गोटे- जो आपने कहा था, के ये गाडी मयुरेश राऊत ने आपके पास दी है आप उतना बोल दो .. खतम हो जाएगा. और डिवेलबिवेल का नाम छोड दो. और ओ उसके आंग पे लेने वाला नही है.. और आप धुलिया मे किसी को भो पुछो, अनिल गोटे क्या चीज है क्या ..
गौडा – हं.. ओ बराबर है. मेरा क्या नॉर्मल व्यवहार है..
आ.गोटे- सब सब बिमारी पर दवा है, इस अनिल गोटे की बिमारी लगी तो उस पर दवा नही है उसको.
गौडा- ओ तो ठीक है. मेरा तो क्या सिम्पल व्यवहार है, मैने किया. मैने उसको बोल दिया, मेरे को मेरा पैसा दे दे .. ये गाडी जो तूम लोग का आपस का लफडा है.. जो तुमेने पैसे दिया ओ तुम लोग का आपस का मॅटर है. मेरा कोई मॅटर नही है. मेरे को मेरा पैसा वापस दो, गाडी लेलो. मेरे को कुछ वांदा नही है उसके…
आ.गोटे- अच्छा, सुनो मेरी बात. अभी-अभी किसी भी हालत मे उसको गाडी मिलनेवाली नही है ..
गौडा- हां ओ तो चौकी मे जमा है क्या? उसको मिलने वाला नही है ओ लोगो को…
आ. गोटे- चौकी में जमा नही .मुंबई का सी पी कौन है मालूम है क्या?
गौडा- नही सर इतना बडा तो…
आ.गोटे- बताता हुं.. दत्ता फडसलजीकर.
गौडा- अच्छा …
आ.गोटे- और क्राईम का सी पी है संजय सक्सेना.
गौडा- ओके
आ.गोटे – क्या .. उन्होने कल रात मे फोन कर के बोला वहा क्या.. डीसीपी है वहा देशमाने..क्या..
गौडा – (दुसरीकडे) ये समीर..
आ.गोटे – सुनो कैलासजी….
गौडा- हां.. हां..हां..बोलीयेना
आ.गोटे- उसको बोला रात को क्या…और मुझे कहा उन्होने की आप जा के उसको वहां जा के मिलो ..
गौडा- सिनियर साहब को मिलो
आ. गोटे- नही मै सिनियर साहब को काय को मिलने आऊंगा. मै तो उनको मिलने आया था. ओ श्रद्धा को, उनको और उनकी फमिली को..
गौडा- अच्छा ओ मॅडम को? हं…हं…
आ.गोटे- मुझे क्या करना है सिनियर से?
गौडा- हां…हां…हां…
आ.गोटे- हं क्या तो आप.. मेरी सलाह है, इसके बाद आप सोचो.
गौडा- ठीक है…
आ.गोटे – और उदय का जो नंबर है ओ मुझे दे दे दिजीये..
गौडा- ठीक है मै मॅसेज करता हुं…अभी पांच मिनिट में..
आ.गोटे- हां मॅसेज करो. और उसको समजा ओ की इस लफडे मे पड मत. मर जाएगा तू .
अभी मुझे सतीष का मॅसेज आया है. मांगले का के मैने उदय का फोटो डाला उसमे क्या..?
और मैने पुछां के ये आदमी को जानता है क्या तू? तो उसने लिख दिया मुझे की इस आदमी को आज तक जिंदगी मे कभी मिला नही. इससे मेरा कोई लेनदेन नही. अभी ये मे सीपी साहब को भेजने वाला हुं क्या …?
गौडा- हं…हं…हं…
आ.गोटे- आप समजो. आप समजदार हो, क्या…?
तो मैने सिनियर को पूछा, आप सावंत को मैने उसे कहा था क्या. जो बीच मे लोग है उनको मत अरेस्ट करो, क्या हॅलो…
गौडा- सून..सून रहा हुं.
आ.गोटे- जो बीच मी लोग है, उसको मत अरेस्ट करो.
गौडा – हां वही हम लोग तो फालतू मी फसेंगे साले.
आ.गोटे- हा इसके लिए आप सही सही बात बोल दो…ऐसे हि अमित मिश्रा ने किया था, अमित मिश्रा ने वो मर्सिडीज निकाली थी, ये इसके कहेने पर. मयुरेश राऊत के क्या मैने उसको बोला अमित तेरा व्हिडीओ मेरे पास है, अंदर का. मेरे पास तू झुठ बोलेगा तो मर जायेगा. उसने कलम 164 मे साईड जज के सामने कबुल किया है..
गौडा- अच्छां…
आ.गोटे- हा आप भी वैसा ही करो हं, मै जो कह रहा हुं आपको क्या …हम तो राजनीती के लोग है. हम तो किसी के बाप को डरते नही आपको तो मालूम है.
गौडा- ओ तो है..
आ.गोटे – हं क्या.. हम साधू से साधू है, और भाई के भाई है…
गौडा- हां…हां…हां …
गोटे – क्या हं …
गौडा – एक मिनिट हं सर, एक मिनिट..
गोटे- हं…ह…
गौडा – (दुसरीकडे ) हॅलो, हॅलो हं…हं…
आ.गोटे- हॅलो, हॅलो…

LEAVE A REPLY

*